Birbal Ki Kahaniya in Hindi / बीरबल की कहानियां हिंदी में

Birbal Ki Kahaniya in Hindi / बीरबल की कहानियां हिंदी में

Birbal Ki Kahaniya मित्रों इस पोस्ट में Birbal Ki Kahaniyan दी गयी गई है।  यह बहुत ही बढियाँ हिंदी कहानी है।

 

 

 

बादशाह अकबर अपने महल में लेटे हुए थे। सुबह का वक्त था। उन्हें प्यास लगी हुई थी, वह पानी के लिए आवाज लगा रहे थे। लेकिन उस वक़्त वहां कोई नौकर मौजूद नहीं था।

 

 

 

 

एक सफाई करने वाला ही उतनी सुबह आया था। उसने बादशाह की आवाज सुनी जो पीने के लिए पानी मांग रहे थे। तब वह सफाई वाला एक ग्लास में पानी लेकर बादशाह को दे दिया।

 

 

 

पानी पीने के बाद बादशाह सो गए। उसी समय दो नौकर और आ गए थे। उन लोगो ने सफाई वाले को बादशाह अकबर को पानी से भरा हुआ ग्लास देते हुए देखा था।

 

 

 

 

दोपहर तक बादशाह की तबीयत ख़राब हो गई थी। बड़े-बड़े हकीम और बैद्य आए लेकिन उन लोगो की दवा से बादशाह की तबीयत में सुधार नहीं हुआ।

 

 

 

 

तब सभी ने एक ज्योतिषी को बुलाया। उसने बादशाह के पास जाकर कहा, “जहांपनाह, आपने किसी मनहूस आदमी का चेहरा देखा है इसलिए आपकी तबीयत ख़राब हो गई है।”

 

 

 

 

बादशाह याद करते हुए बताया, “सुबह हमें प्यास लगी हुई थी तो एक सफाई वाला हमें पानी पिला गया और सबसे पहले वही हमारे सामने आया था। इसलिए हमारी तबीयत खराब हो गई है क्योंकि वह मनहूस आदमी है। उसे कैद में डाल दो।”

 

 

 

 

सिपाहियों ने उस सफाई वाले को कैद कर जेल में डाल दिया। यह बात बीरबल को मालूम हुई तो वह सफाई वाले के पास जाकर उसे दिलासा दिया कि मैं तुम्हे इस कैद से आजाद कर दूंगा।

 

 

 

 

बीरबल बादशाह के पास गए। उनका हाल चाल पूछने लगे तो अकबर बादशाह ने कहा, “सुबह-सुबह वह सफाई वाला हमें पानी पिला गया वह हमे राज्य का मनहूस आदमी है। उसकी सूरत देखने से हमारी तबीयत ख़राब हो गई है।”

 

 

 

बीरबल बोला, “जहांपनाह, अगर इजाजत हो तो मैं एक बात आपसे कहना चाहता हूँ।”

 

 

 

बादशाह ने बात कहने की इजाजत दे दिया। बीरबल ने कहा, “हुजूर, आप सबसे बड़े मनहूस आदमी है क्योंकि उस सफाई वाले ने आपको पानी पिलाया और अपने उस बेचारे को मनहूस बताकर जेल भिजवा दिया।”

 

 

 

बीरबल ने आगे कहा, “लेकिन उसने आपका चेहरा देखा तो उसे कैद की सजा मिल गई। जबकि उसका चेहरा देखने से आपकी सिर्फ तबीयत ही ख़राब हुई थी।”

 

 

 

 

अब बादशाह को अपनी गलती का एहसास हो चुका था। उसने सफाई करने वाले को आजाद करने का हुक्म दे दिया और उस ज्योतिषी को घुड़साल साफ करने की सजा सुना दिया क्योंकि उसी ने सफाई वाले को मनहूस कहा था।

 

 

 

 

बीरबल की चतुराई से सफाई वाले की जान बच गई।

 

 

 

मित्रों यह Birbal Ki Kahaniya in Hindi आपको कैसी लगी जरूर बताएं और Birbal Ki Kahani Hindi Me की तरह की दूसरी कहानी के लिए इस ब्लॉग को सब्स्क्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी जरूर करें।

 

 

 

1- Birbal ki chaturai ki Kahani

 

2- Akbar Birbal ki Kahani in Hindi pdf Download

 

3- Akbar Birbal ki Kahani in hindi short story

 

4- Birbal Ki Khichdi in Hindi / बीरबल की खिचड़ी हिंदी में में पढ़ें

 

5- Akbar Birbal ki Kahani Aam ka ped

 

 

 

Pari ki Kahaniya